झारखंड / प्रदेश

केंद्र व राज्य सरकार की सारी योजनाओं की पोल खोलता बीमारी व भुखमरी में मरता एक परिवार ।जानिए देश की असली तस्वीर का सच

केंद्र व राज्य सरकार की सारी योजनाओं की पोल खोलता बीमारी व भुखमरी में मरता एक परिवार ।जानिए देश की असली तस्वीर का सच

केंद्र व राज्य सरकार की सारी योजनाओं की पोल खोलता बीमारी व भुखमरी में मरता एक परिवार ।जानिए देश की असली तस्वीर का सच

भुखमरी के कगार पर माधुरी दीक्षित व उसके परिवार

सरिया (गिरीडीह) : पूरे विश्व में भारत एक ऐसा देश है जहां देश को सोने की चिड़िया कहा जाता था। आज सरकारी गलत नीति के कारण देश की गरीब की स्थिति दयनीय होती जा रही है। नेता सिर्फ वोट मांगने के टाइम पर गांव में भिखारियों की तरह घूमते हैं। लेकिन गरीब जनता को उसके अधिकारों को दिलाने में पूरी तरह नाकाम और असफल रहते हैं।

इस बातगी तब देखने को मिली।जब प्रखंड के चन्द्रमारणी गांव में लगभग चार दशकों से मजदूरी कर जीवन यापन करने वाली महिला माधुरी दीक्षित की बेहद गरीब महिला  भुखमरी के कगार पर पहुंच गई है। केंद्र और राज्य सरकार के पास कोई ऐसी योजना नहीं है इस गरीब को उस योजना में शामिल  कर लाभान्वित किया जा सके।या कोई संसाधन उपलब्ध करा सके। सरकार की सारी योजनाएं सब छलावा और दिखावा है। क्योंकि इस माधुरी दीक्षित नाम की महिलाओं को न ही राशन कार्ड में न ही  प्रधानमंत्री आवास न ही कोई अन्य योजना में  शामिल किया जा सका  इनके पति बिलटू सिंह (60) मजदूरी कर अपने परिवार का भरण पोषण करते थे. परन्तु बीते कुछ दिनों से बीमारी व लाचारी के कारण काम नहीं कर पा रहे हैं. बीमारी के चलते मजदूरी न करवाने घर में खाने की चीजों के लाले पड़े हैं। इसलिए यह परिवार भुखमरी की कगार पर खड़ा है। मैं इस लेख के माध्यम से इस परिवार की मदद करने के लिए सभी लोगों से आग्रह करता हूं।इस सम्बंध में माधुरी दीक्षित ने आजसू नेता श्री धर्मपाल महतो को बताया कि उनके पति मजदूरी करने में अक्षम हो गए हैं, वहीं उनका बेटा विजय कुमार (15) बीमार है. घर में अनाज का एक भी दाना नहीं हैं, जिस कारण सभी को भूखे पेट सोना पड़ रहा है. उसने बताया कि कुछ वर्षों पूर्व सरकार द्वारा राशन कार्ड के माध्यम से अनाज मिलता था, लेकिन नया राशन कार्ड से उसे वंचित कर दिया गया. अब भरपेट भोजन के लिए पूरा परिवार मोहताज है, जिसके बाद श्री महतो ने उनके स्थिति का वीडियो बनाकर सोशल मीडिया से लोगों व अधिकारियों को अवगत कराया परन्तु तत्काल कोई ठोस कदम पहल नही किया गया, जिसके उपरान्त शुक्रवार को माधुरी के बीमार बेटे विजय को समुचित इलाज हेतु श्री धर्मपाल महतो स्वयं सदर अस्पताल गिरिडीह जाकर भर्ती करवाया और स्वयं से व चंदा कर आर्थिक रूप से भी मदद किया।

#झारखंडसरकार। #झारखंडसमाचार #गिरीडीहसमाचर

#TigerPostNews

1 Comment

  1. I want assembling useful information , this post has got me even more info! .

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>