Indian politics

पीएसपी-एल नेता शिवपाल यादव मिले मुलायम सिंह यादव से।देखिए पूरी रिपोर्ट

पीएसपी-एल नेता शिवपाल यादव मिले मुलायम सिंह यादव से।देखिए पूरी रिपोर्ट

पीएसपी-एल नेता शिवपाल  सिंह यादव ने Shivpal Singh Yadav  मुलायम सिंह  यादव Mulayam Singh Yadav से मुलाकात। सपा से विलय को लेकर सारी अफवाहों को किया सिरे से खारिज।

Tiger Post News Network Noida Desk 

लखनऊःप्रगतिवादी समाजवादी पार्टी-लोहिया  के  नेता शिवपाल सिंह यादव Shivpal Singh Yadav ने शुक्रवार

को समाजवादी पार्टी के संरक्षण  मुलायम  सिंह  यादव Mulayam Singh Yadav से मुलाकात कर हालचाल

जाना। दोनों  वरिष्ठ  नेताओं  की  मुलाकात  को लेकर राजनीतिक गलियारे जिस तरह के कयास लगाए जा रहे थे

उसको शिवपाल यादव Shivpal Singh Yadav ने पूरी तरह खारिज कर दिया।

दरअसल प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के प्रमुख नेता शिवपाल सिंह यादव Shivpal Singh Yadav ने

सपा के संरक्षण मुलायम सिंह यादव Mulayam Singh Yadav से मुलाकात  कर  उनके  स्वास्थ्य का हालचाल

जाना। दोनों नेताओं की मुलाकात को लेकर कयास लगाए जा रहे थे कि प्रगति समाजवादी पार्टी लोहिया का समाज

वादी पार्टी में विलय होने जा रहा है। सोशल मीडिया में बढ़ती  अफवाह को खारिज करने के लिए प्रगतिशील

समाजवादी  पार्टी के नेता शिवपाल यादव  Shivpal Singh Yadav मैदान में उतरी उन्होंने सारी अफवाहों पर

विराम लगाते हुए कहा उनकी पार्टी का समाजवादी पार्टी में विलय करने का कोई इरादा नहीं है

“मैं” नेताजी “(सपा संरक्षक  मुलायम  सिंह Mulayam Singh Yadav यादव) से मिलने उनके स्वास्थ्य के बारे में

जानकारी लेने गया था। हमने कुछ और चर्चा नहीं की, ”शिवपाल Shivpal Singh Yadav ने कहा, मुलायम के

साथ  हाल  की बैठक का  जिक्र  करते  हुए  जहां सपा Mulayam Singh Yadav प्रमुख अखिलेश यादव भी

मौजूद थे। इस बैठक से लग रहा था कि सपा और PSP-L के बीच संभावित पैच-अप के राजनीतिक हलकों में बात बढ़ गई है।

प्रगतिशील समाजवादी नेता शिवपाल यादव Shivpal Singh Yadav ने  कहा: “अगर उत्तर प्रदेश की 12

विधानसभा  सीटों  के  लिए  आगामी  उपचुनाव के लिए गठबंधन का प्रस्ताव का प्रस्ताव आता है तो हम इस बारे में

विचार कर सकते हैं। अभी हमारा फोकस  2022 में उत्तर प्रदेश में होने जा रहे विधानसभा चुनाव की ओर है।

राजनीतिक गलियारे में जिस तरह प्रगतिशील समाजवादी पार्टी एवं समाजवादी पार्टी के विलय को लेकर चर्चाओं का

बाजार गर्म है। उससे एक बात तो स्पष्ट लग रही है कि अगर आगामी उत्तर प्रदेश के  विधानसभा  चुनाव में

समाजवादी पार्टी एवं प्रगतिशील समाजवादी पार्टी ने एक  ना होकर अलग-अलग चुनाव लड़ेंगे। तो दोनों में से किसी

को उत्तर प्रदेश में सत्ता नहीं मिल सकती। इसलिए दोनों पार्टियों के एक होने से इनकार नहीं किया जा सकता है।

फिलहाल अभी उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव में काफी समय है। लेकिन  अगर  समय  रहते  समाजवादी  पार्टी,

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी ने जनता के बीच में जाकर उनकी समस्याओं को हल नहीं

करा और जमीनी स्तर पर काम नहीं किया। तो इन सभी राजनीतिक पार्टियों के लिए उत्तर प्रदेश की सत्ता दूर की कौड़ी साबित होगी।

शायद इन तमाम राजनीतिक पार्टी को पार्टियों को भारत रतन डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की एक ही बात समझ में

आ जाती तो किसी को सत्ता से दो-चार नहीं होना पड़ता। डॉक्टर भीमराव अंबेडकर ने कहा था कि “शिक्षित बनो संघर्ष करो संगठित रहो”

रिपोर्ट सुशील बाबू सागर टाइगर पोस्ट न्यूज नेटवर्क

मेरठ के कीटनाशक फैक्ट्री में लगी भीषण आग। फायर फाइटिंग की 9 गाड़ियां मौके पर पहुंची

हेलो गाइस टाइगर पोस्ट न्यूज़ नेटवर्क सदैव आप के लिए नवीनतम एवं उच्च क्वालिटी की खबरें व जानकारी उपलब्ध कराने के लिए वचनबद्ध है। हमारे चैनल द्वारा कोई ऐसी खबरों को बिल्कुल प्रसारित नहीं किया जाएगा जो सांप्रदायिकता व असामाजिक तत्वों को बढ़ावा देती है।टाइगर पोस्ट न्यूज नेटवर्क परिवार आप से आशा करता हैकि आप बेहतरीन, नवीनतम उच्च क्वालिटी की खबरें और जानकारी के लिए हमारे चैनल को सब्सक्राइब करें। सुशील बाबू सागर चीफ इन एडिटर टाइगर पोस्ट न्यूज़ रूम नंबर 1,बी 46, सेक्टर 63 नोएडा गौतम बुद्ब नगर उत्तर प्रदेश भारत। 201301 Tiger Post News Owner:Susheel Babu Sagar info@tigerpostnews.com sachinsagarsachin09@gmail.com

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>